Breaking News

admin

तहसील रसूलाबाद सभाकक्ष में उपजिलाधिकारी व ब्लॉक प्रमुख संग अधिकारियों ने मनाया अमृत महोत्सव

“तहसील रसूलाबाद सभाकक्ष में उपजिलाधिकारी व ब्लॉक प्रमुख संग अधिकारियों ने मनाया अमृत महोत्सव रिपोर्टर—हरिश्चन्द्र कानपुर देहात एंकर—तहसील रसूलाबाद में अमृत महोत्सव का चल रहा कार्यक्रम के अन्तर्गत सभा कक्ष में उपजिलाधिकारी अंजू वर्मा के नेतृत्व में सरकार की मनसानुरूप आजादी के 75 वी वर्षगाँठ के दौरान जिन स्वतंत्रता सेनानियों …

Read More »

‘कृपाण’ धार्मिक विश्वास का हिस्‍सा; इसे ह‌थियार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है, यह तथ्य इसे वास्तव में अपराध का हथियार नहीं बनाता: सुप्रीम कोर्ट

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया सुप्रीम कोर्ट ने हत्या के आरोप से एक आरोपी को बरी करते हुए कहा कि धार्मिक विश्वास के रूप में एक विशिष्ट समुदाय के …

Read More »

संपत्ति अंतरण अधिनियम, 1882 भाग: 11 अंतरण की जाने वाली संपत्ति की आय को एक निश्चित समय के लिए स्टॉक करने से संबंधित निर्देश

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया संपत्ति अंतरण अधिनियम, 1882 की धारा-17 संपत्ति के संचयन के निर्देश से संबंधित है यह धारा इस अधिनियम की धारा 14 जिसका उल्लेख पिछले …

Read More »

मेडिकल लापरवाही के मामलों में मंशा के तौर पर आपराधिक मनोस्थिति की आवश्यकता नहीं: सुप्रीम कोर्ट

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि मेडिकल लापरवाही के मामलों में मंशा के तौर पर आपराधिक मनोस्थिति (मेन्स रिया) की आवश्यकता नहीं होती है। …

Read More »

मेडिकल लापरवाही के मामलों में मंशा के तौर पर आपराधिक मनोस्थिति की आवश्यकता नहीं: सुप्रीम कोर्ट

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि मेडिकल लापरवाही के मामलों में मंशा के तौर पर आपराधिक मनोस्थिति (मेन्स रिया) की आवश्यकता नहीं होती है। …

Read More »

खड़े ट्रक में लोडर सवार ने मारी टक्कर चालक की घटनास्थल पर मौत

“खड़े ट्रक में लोडर सवार ने मारी टक्कर चालक की घटनास्थल पर मौत रिपोर्टर—हरिश्चन्द्र कानपुर देहात सिकंदरा कानपुर देहात सिकंदरा थाना क्षेत्र के औरैया कानपुर नेशनल हाईवे पर मदनपुर के समीप खड़े ट्रक में लोडर सवार ने पीछे से मारी जोरदार टक्कर मार दी जिससे लोडर चालक की घटनास्थल पर …

Read More »

कानपुर देहात:बिना अनुमति एक दर्जन शीशम के पेड़ो की अवैध कटान कराने का मामला,

“कानपुर देहात:बिना अनुमति एक दर्जन शीशम के पेड़ो की अवैध कटान कराने का मामला, रिपोर्टर—हरिश्चन्द्र कानपुर देहात वन माफिया ने सरकारी भूमि पर खड़े शीशम के पेड़ों का कराया अवैध कटान, ग्रामीणों ने बीते दिवस मामले की असालतगंज पुलिस चौकी में दी थी सूचना, सूचना के वाबजूद असालतगंज चौकी पुलिस …

Read More »

बढ़ती मंहगाई के विरोध में सपा की साइकिल रैली में उमड़ी भीड़

“बढ़ती मंहगाई के विरोध में सपा की साइकिल रैली में उमड़ी भीड़ पूर्व विधायक कमलेश चन्द्र दिवाकर ने कहा भाजपा ने पूंजी पतियो को संरक्षण दे गरीबो को और गरीब बनाकर भुखमरी की कगार पर पहुंचा दिया समाजवादी पार्टी के प्रचारक वरिष्ठ नेता शिव मूर्ति सिंह राना ने साइकिल रैली …

Read More »

‘ड्रीम 11’ फैंटेसी स्पोर्ट्स गेम जुआ नहीं: सुप्रीम कोर्ट ने ‘ड्रीम 11’ पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाली याचिका को खारिज करने के राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को बरकरार रखा

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान हाईकोर्ट के उस फैसले को बरकरार रखा, जिसमें कोर्ट ने “ड्रीम 11” नामक ऑनलाइन गेम पर प्रतिबंध लगाने की मांग …

Read More »

अधिक समावेशिता, विविधता और सामुदायिक पहुंच का लक्ष्य करें : सीजेआई रमना ने लॉ फर्मों से कहा

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया सोसाइटी फॉर इंडियन लॉ फर्म्स (एसआईएलएफ) द्वारा आयोजित कॉफी टेबल बुक लॉन्च में, भारत के मुख्य न्यायाधीश, एन वी रमना ने भारतीय कानून फर्मों …

Read More »

“वकील पेशेवर फीस लेते हैं और फिर अपने काम से दूर भागते हैं”: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले के समयबद्ध निपटान की मांग वाली याचिका खारिज की

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले के समयबद्ध निपटान की मांग वाली याचिका को खारिज करते हुए कहा कि, “वकील एक तरफ अदालत के कामकाज …

Read More »

“एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया

“”एक सदी का एक चौथाई बीत चुका है ” : सुप्रीम कोर्ट ने 26 साल से लंबित बंटवारे के वाद के शीघ्र ट्रायल का निर्देश दिया एक सदी का एक चौथाई यह निर्धारित करने में बीत चुका है कि क्या लाइसेंसधारी अपने बेटे के कब्जे वाले हिस्से पर कब्जा लेने …

Read More »

दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश से फिर एक हुआ नवविवाहित जोड़ा, याचिका निस्तारित करते हुए कोर्ट ने कहा, “अंत भला तो सब भला”

“अगर किरायेदार विवाद करता है कि संपत्ति वक्फ की नहीं है तो बेदखली का मुकदमा वक्फ ट्रिब्यूनल के समक्ष सुनवाई योग्य है : सुप्रीम कोर्ट दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को अदालत के आदेश से फिर एक हुए नवविवाहित जोड़े के मामले के तथ्यों पर ध्यान देते हुए कहा कि “अंत …

Read More »

“वकील पेशेवर फीस लेते हैं और फिर अपने काम से दूर भागते हैं”: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले के समयबद्ध निपटान की मांग वाली याचिका खारिज की

“अगर किरायेदार विवाद करता है कि संपत्ति वक्फ की नहीं है तो बेदखली का मुकदमा वक्फ ट्रिब्यूनल के समक्ष सुनवाई योग्य है : सुप्रीम कोर्ट इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक मामले के समयबद्ध निपटान की मांग वाली याचिका को खारिज करते हुए कहा कि, “वकील एक तरफ अदालत के कामकाज को …

Read More »

अगर किरायेदार विवाद करता है कि संपत्ति वक्फ की नहीं है तो बेदखली का मुकदमा वक्फ ट्रिब्यूनल के समक्ष सुनवाई योग्य है : सुप्रीम कोर्ट

“अगर किरायेदार विवाद करता है कि संपत्ति वक्फ की नहीं है तो बेदखली का मुकदमा वक्फ ट्रिब्यूनल के समक्ष सुनवाई योग्य है : सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर किरायेदार विवाद करता है कि संपत्ति वक्फ की नहीं है तो बेदखली का मुकदमा वक्फ ट्रिब्यूनल के समक्ष सुनवाई …

Read More »

इस पुरुष ‘वर्चस्ववाद’ कि महिलाएं ‘आनंद की वस्तु’ हैं, से निपटने आवश्यकता : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ‘विवाह का झूठा वादा कर संभोग करने’ के मामलों पर विशिष्ट कानून बनाने की बात की

“इस पुरुष ‘वर्चस्ववाद’ कि महिलाएं ‘आनंद की वस्तु’ हैं, से निपटने आवश्यकता : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ‘विवाह का झूठा वादा कर संभोग करने’ के मामलों पर विशिष्ट कानून बनाने की बात की इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने कहा है कि विधायिका के लिए यह आवश्यक है कि ऐसे मामलों के लिए, …

Read More »

सिविल मुकदमों में कौन-कौन पक्षकार बन सकता या बनाया जा सकता है?

“सिविल मुकदमों में कौन-कौन पक्षकार बन सकता या बनाया जा सकता है? क्या सिविल मुकदमा किसी के भी द्वारा और किसी के भी खिलाफ दाखिल किया जा सकता है? किसी भी व्यक्ति को सिविल मुकदमे में पक्षकार बनाने के पीछे क्या विचार होता है? क्या कानूनी रूप से किसी भी …

Read More »

पीड़िता की जांघों के बीच किया गया पेनेट्रेटिव सेक्सुअल एक्ट IPC की धारा 375(c) के तहत परिभाषित ‘बलात्कार’ के समान: केरल हाईकोर्ट

“पीड़िता की जांघों के बीच किया गया पेनेट्रेटिव सेक्सुअल एक्ट IPC की धारा 375(c) के तहत परिभाषित ‘बलात्कार’ के समान: केरल हाईकोर्ट केरल हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि जब पी‌ड़ित के शरीर को ऐसी सनसनी पैदा करने के लिए छेड़ा जाता है, जो पेनेट्रेशन (पेनेट्रेशन ऑफ एन ऑरफिस यानि …

Read More »

सिर्फ बयानों में अंसगति होने पर गवाह पर सीआरपीसी की धारा 193 के तहत मुकदमा नहीं चलाया जा सकता : सुप्रीम कोर्ट

“सिर्फ बयानों में अंसगति होने पर गवाह पर सीआरपीसी की धारा 193 के तहत मुकदमा नहीं चलाया जा सकता : सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एक गवाह पर भारतीय दंड संहिता (सीआरपीसी ) की धारा 193 के तहत इसलिए झूठी गवाही के लिए मुकदमा नहीं चलाया जा सकता …

Read More »

प्राथमिकी रद्द करना- मेरिट की विस्तृत जांच सीआरपीसी की धारा 482 के तहत जरूरी नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने दोहराया

“प्राथमिकी रद्द करना- मेरिट की विस्तृत जांच सीआरपीसी की धारा 482 के तहत जरूरी नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने दोहराया सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर कहा है कि आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 482 के तहत अधिकार क्षेत्र का प्रयोग करते हुए आरोपों के गुण-दोषों (मेरिट) की विस्तृत जांच …

Read More »