Breaking News

Masonry Layout

मंदिरों के पास गोमांस की बिक्री नहीं: असम सरकार ने राज्य विधानसभा में ‘असम मवेशी संरक्षण विधेयक, 2021’ पेश किया

मंदिरों के पास गोमांस की बिक्री नहीं: असम सरकार ने राज्य विधानसभा में ‘असम मवेशी …

Read More »

‘आरोपी जमानदार पेश करने में असफल रहा’: दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत की शर्त को निजी बॉन्ड में संशोधित किया

‘आरोपी जमानदार पेश करने में असफल रहा’: दिल्ली हाईकोर्ट ने जमानत की शर्त को निजी …

Read More »

मुख्यमंत्री कल्याण योजना में अपना दावा पेश करने के लिए बीसीडी में रजिस्ट्रर्ड वकीलों के लिए दिल्ली का वोटर आईडी जरूरी नहीं: हाईकोर्ट

मुख्यमंत्री कल्याण योजना में अपना दावा पेश करने के लिए बीसीडी में रजिस्ट्रर्ड वकीलों के …

Read More »

”हमारे साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है”: उपभोक्ता फोरम के 234 संविदा कर्मचारी अपने हाईकोर्ट, जिला न्यायालयों के समकक्षों के साथ समानता की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे

”हमारे साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है”: उपभोक्ता फोरम के 234 संविदा कर्मचारी अपने हाईकोर्ट, …

Read More »

राष्ट्रीय लोक अदालतों के सफलतापूर्ण आयोजन ने महामारी को अवसर में बदल दिया: जस्टिस ललित

राष्ट्रीय लोक अदालतों के सफलतापूर्ण आयोजन ने महामारी को अवसर में बदल दिया: जस्टिस ललित …

Read More »

बिहार में पूरी तरह पुलिस राज, निचले तबके की आजादी का नुकसान अधिक संसाधन वाले किसी अमीर व्यक्ति की तुलना में कम नहीं आंका जा सकता: सुप्रीम कोर्ट

बिहार में पूरी तरह पुलिस राज, निचले तबके की आजादी का नुकसान अधिक संसाधन वाले …

Read More »

कलकत्ता हाईकोर्ट ने उच्च प्राथमिक विद्यालयों के लिए शिक्षक भर्ती प्रक्रिया पर रोक हटाई, प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए

कलकत्ता हाईकोर्ट ने उच्च प्राथमिक विद्यालयों के लिए शिक्षक भर्ती प्रक्रिया पर रोक हटाई, प्रक्रिया …

Read More »

न्यायाधीशों को शासकों की तरह व्यवहार नहीं करना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट ने सरकारी अधिकारियों को अनावश्यक रूप से तलब करने के हाईकोर्ट के चलन की कड़ी निंदा की

न्यायाधीशों को शासकों की तरह व्यवहार नहीं करना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट ने सरकारी अधिकारियों को …

Read More »

‘मौलिक अधिकार बनाम विधायिका विशेषाधिकार’ : सात न्यायाधीशों की बेंच के समक्ष 2005 से लंबित रेफरेंस को प्राथमिकता दी जानी चाहिए, सुप्रीम कोर्ट ने कहा

‘मौलिक अधिकार बनाम विधायिका विशेषाधिकार’ : सात न्यायाधीशों की बेंच के समक्ष 2005 से लंबित …

Read More »

“राष्ट्रगान के लिए खड़े नहीं होना या चुप रहना मौलिक कर्तव्यों का पालन करने में अनादर और विफलता के बराबर हो सकता है; लेकिन यह अपराध नहीं”: जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट

“राष्ट्रगान के लिए खड़े नहीं होना या चुप रहना मौलिक कर्तव्यों का पालन करने में …

Read More »