Breaking News

सावन का चौथा सोमवार

“सावन का चौथा सोमवार


रिपोर्ट – हरिश्चन्द्र / कानपुर देहात
सावन का चौथा अंतिम सोमवार है। आज
मंदिरों और शिवालयों में उमड़ी भक्तों की भीड़
धर्मगढ़ बाबा धाम में उमड़ी श्रद्धालुओं की भारी भीड़
मुगल शासन मे विद्रोहियों ने ध्वस्त किया था मंदिर

सावन का चौथा सोमवार आज यानी है। सावन का चौथा सोमवार है और हिंदू धर्म में सावन मास के साथ ही इसके सोमवार का भी विशेष महत्व होता है और इस महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है वही सावन शुरू होते ही मंदिर व शिवालयों में हर-हर महादेव का उद्घोष उठने लगा और सावन के चौथे दिन सोमवार को रुद्राभिषेक व जलाभिषेक किया गया वहीं कोरोना संकट के चलते ज्यादातर लोगों ने घर पर ही भगवान शिव कि विधि विधान से पूजा की आइए देखते है
आस्था के प्रतीक धर्मगढ़ बाबा धाम रसूलाबाद सावन के चौथे सोमवार को यानी की आज श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी है। जिसके चलते श्री कांवर मेला कमेटी के पदाधिकारियों ने रविवार को ही परिसर की साफ-सफाई कराई तथा भगवान के वस्त्र आदि बदले वही बताते चलें कि धर्मगढ़ बाबा मंदिर मे जनपद के श्रद्धालुओं के साथ साथ फर्रुखाबाद, कन्नौज, कानपुर नगर, औरैया, उन्नाव और इटावा आदि सुदूर अंचल से श्रद्धालु भक्त भगवान भोलेनाथ के दर्शन पूजन को मंदिर आते है।
मंदिर के इतिहास के बारे में बुजुर्ग लोगों ने बताया कि मंदिर के 6 किलोमीटर उत्तर दिशा मे जमदग्नि ऋषि आश्रम जमथरखेड़ा जोत गांव है। लोगों का कहना है कि मंदिर में स्थापित शिवलिंग स्थापना भगवान परशुराम द्वारा की गई थी। मुगल शासन मे विद्रोहियों ने मंदिर ध्वस्त कर पास मे बने कुआं मे शिवलिंग फेक दी। वर्ष 1945 में तत्कालीन थाना इसरार हुसैन ने कुएं से निकलवा कर चबूतरा मे रखवाया था और 1948 मे तत्कालीन थानाध्यक्ष नागेंद्र सिंह ने मंदिर को स्वरूप दिया। यहां साल मे कई बार बड़े बड़े धार्मिक अनुष्ठान होते हैं।
बाइट- संजय मिश्रा (मंदिर मीडिया प्रभारी)
फा. वीओ—सावन माह शुरु होते ही जिला प्रशासन ने कोविड गाइड लाइन पालन कराने के लिए कमर कस ली। वहीं रसूलाबाद उपजिलाधिकारी अंजू वर्मा ने बताया कि धर्म गढ़ बाबा मंदिर के पदाधिकारियों ने कोरोना के चलते स्वंय निर्णय लिया कि मेले का आयोजन नहीं किया जाएगा। साथ ही उन्होंने क्षेत्रीय शिव भक्तों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए कोविड गाइड का पालन सभी लोग करें।
बाइट- अंजू वर्मा (एसडीएम रसूलाबाद)

About admin

Check Also

यदि दुर्घटना के समय मोटर वाहन पॉलिसी के अनुसार ‘उपयोग के उद्देश्य’ के उल्लंघन में था तो बीमा कंपनी उत्तरदायी नहीं: तेलंगाना हाईकोर्ट

“यदि दुर्घटना के समय मोटर वाहन पॉलिसी के अनुसार ‘उपयोग के उद्देश्य’ के उल्लंघन में …